Wednesday, November 3, 2010

अरपा विशेष क्षेत्र प्राधिकरण

इस से पहले भी मै अरपा पर ब्लॉग लिख चूका हु चुकी अवसर कुछ ऐसा है जो मैं आपने आप को रोक नहीं पा रहा हु करण यह है की  अरपा विशेष क्षेत्र प्राधिकरण के गठन होना मैंने कई बार इस अरपा प्रोजेक्ट पर कई लोगो से चर्चा की है और यह मेरे लिए भी एक सपने को सच होते देखने जैसा है इस प्रोजेक्ट को को लेकर जो जो बाते मैंने सोची थी वो भी समय के साथ हकीकत में बदलती नज़र आ रही है .. यह प्रोजेक्ट चलू होने से मुझे यह फायदा मिला है की मैंने जिन जिन लोगो के सामने इस प्रोजेक्ट से जुडी बाते कही थी वो सच होते जा रही है


                                              मुझे लगता है की अरपा प्रोजेक्ट कुछ ऐसा ही होगा
                                                 २०२० में कुछ ऐसा लगे गी अरपा नदी  
                                                   अरपा नदी २०२२ में
                                                     Arpa ka kinara 2021 me kuch aisa hoga
                                                        Arpa Bilaspur २०१९ में कुछ इस तरह लगेगी 
                                                 सेंदरी या लोफंदी या फिर घुटकू  में  में कुछ ऐसा नजरो होगा 
                                                 !!!!!!!!!!!!!!!!!!!!!!!!!!!!!!!!!!!!!!!!!!!!!!!
.
.
.
""सपने सच नहीं होते'' ...पर अमर अगरवाल जी ने सपनों को सच करते हुए यह साबित कर दिया ..( अरपा प्रोजेक्ट) अरपा विशेष क्षेत्र प्राधिकरण के गठन की अधिसूचना जारी होने पर हार्दिक बधाइयाँ...

बिलासपुर का अरपा प्रोजेक्ट मंत्री और विधायक श्री अमर अग्रवाल जी का ड्रीम प्रोजेक्ट है , बिना अग्रवाल जी की सोच के आज अरपा प्रोजेक्ट अस्तित्व में नही आता , अरपा विशेष क्षेत्र प्राधिकरण के गठन की अधिसूचना जारी हो गई है कुछ दिनों में यह राजपत्र में भी प्रकाशित हो जाएगी , इससे बिलासपुर में अरपा प्रोजेक्ट को हरी झंडी मिल गई ... अब बिलासपुर की अरपा नदी भी आने वाले समय में लन्दन की टेम्स नदी जैसा दिखने लगेगी और जैसा विकास लन्दन की टेम्स नदी का हुआ है वैसा विकास बिलासपुर में अरपा का भी होगा ...

यह योजना बिलासपुर के विकास को नयी दिशा देने वाली है , हमें बिलासपुर के विकास के लिए 500 करोड़ से ज्यादा का एक प्रोजेक्ट विधायक और प्रभारी मंत्री श्री अमर अगरवाल जी से मिला है इस को कहते है उमीद से एक हजार गुना अधिक मिलना .........................यह उनकी सोच का परिणाम है एक नए- नए राज्य के गठन के बाद असम्भव सी लगने वाली सोच को श्री अमर अग्रवाल जी ने कागजो में उतारा फिर कागजो से निकल कर उस को अस्तित्व लाया जो आज अरपा विशेष क्षेत्र प्राधिकरण बिलासपुर के रूप में हमारे सामने आ रही है !

2 comments:

P.N. Subramanian said...

हम तो इस तिलस्म से भाग आये.

'उदय' said...

... bahut khoob .... atisundar !!!