Thursday, May 26, 2011

पेट्रोल की बढती हुई कीमते भी प्रॉपर्टी मार्केट पर असर डाल सकती है

पेट्रोल की बढती हुई कीमते भी प्रॉपर्टी की रफ़्तार को धीमा कर सकती है ख़ास कर उन स्थनों पर जहा पर सार्वजनिक ट्रांसपोर्ट सिसटम आसानी से सुलभ नहीं है  पेट्रोल के महंगे होने से शहर के केंद्र से दूर के आवासीय , व्यवसायिक  प्रोजेक्ट पर निवेश करने के पहले निवेशक सालाना पेट्रोल के खर्च को भी नजर अंदाज नहीं करेंगे यह कुछ लाइने मैंने फेसबुक पर लिखी तो मुझे लगा की इस पर विस्तार से लिखना चाहिए  पेश है एक पोस्ट 
पेट्रोल की बढती  हुई कीमते  भी प्रोपर्टी मार्केट पर असर डाल सकती है . 

1. शहर से दूर की कालोनियों में निवेश करने से पहले निवेशक रोजाना के पेट्रोल के खर्च का हिसाब लगाये तो उन्हें   शहर से दुरी कुछ ज्यादा महंगी लगेगी 
2. शहर से दूर की कालोनियों के समीप अगर मार्केट नहीं हुआ तो भी आप का मासिक बजट बिगड़ सकता है निवेशक इस बात का भी ध्यान  रखेगे . क्योकि बड़ी और छोटी कालोनियों के समीप के मार्केट या माल से सभी प्रकार की खरीदारी नहीं हो सकती है . किसी भी शहर के प्रमुख मार्केट से खरीदारी होना ही है क्योकि यह वस्तुए दुसरे जगहों की अपेछा सस्ती मिलती है .
3. इन दोनों सुविधाओ का उपयोग हर कोई करता ही है --रेल्वे स्टेशन और बस स्टैंड आप के आवासीय स्थान से अधिक दुरी होने से पेट्रोल समय और दुरी होने से आने जाने का किराया अधिक लगेगा  
4. स्वास्थ सेवाए आप की आवासीय कालोनियों से दूर होने से भी पेट्रोल पर अधिक भार पड़ेगा ..
5 . बच्चो के स्कूल और कालेज दूर होने से भी सालान अधिक भार पड़ेगा .क्योकि पुराने जितने भी प्रमुख शिक्षा के संस्थान है वो शहर के भीतर ही है 
6 . व्यवसाय और नौकरी से सम्बंधित संस्थान की दुरी भी रोजाना के पेट्रोल खर्च में वृद्धि कर सकती है . 

कुल मिला कर कहूँ तो एक पक्ष पेट्रोल की कीमतों में बढोतरी से जेब और शहरी विकास के धीमे होने की संभावनाए ज्यादा दिखाता है और दूसरा  पक्ष यह दर्शाता है की अब तक का हुआ शहरी विकास पेट्रोल की 9 रूपये लीटर पेट्रोल से 69 रूपये के सफ़र में शहरी विकास के बड़ते रहने की सम्भावनाये ज्यादा है .. बरहाल पेट्रोल की बढ़ी हुई कीमतों का बोझ तो आम उपभोक्ताओ पर ही पड़ना है तथा सालान बजट में कटोती कही ना कही से होनी निश्चिन्त है .

Monday, May 9, 2011

मेरी नजर से कुछ अखबारों की कतरने


प्रोपर्टी के निवेशक सावधानी से प्रोपर्टी की खरीदी करे और खरीदने से पहले प्रोपर्टी एक्सपर्ट से सलाह जरुर लेले  निवेशको की थोड़ी सी असावधानी बहुत बड़ा नुकसान करा सकती है .

इन खबरों से यह तो पक्का  हो गया है की आने वाले समय में  अवैध कालोनियों पर सख्ती से कार्यवाहिय होंगी 
पर इस में उन लोगो का क्या दोष है जो इन जगहों  पर प्रोपर्टी पर निवेश किये है . मैंने अनुभव किया है की प्रोपर्टी के बहुत से खरीदारों को अवैध कालोनिय क्या होती है यह तक पता नहीं है अकेले बिलासपुर में 238  अवैध कालोनिया . इन में से कितने को नाम तो मैं भी नहीं जानता हूँ 
साभार -भास्कर